इस ब्लॉग पर पोस्ट की गयी तस्वीरों (Photographs) पर क्लिक कर के आप उन्हें और स्पष्ट देख सकते हैं।

Friday, 27 December 2013

8 उतना तो कठिन नहीं.....

आज अपने डेस्कटॉप पी सी पर विंडोज़ 8.1 (प्रो) नया नया डाला है। कुछ फीचर्स को छोड़ दें तो विंडोज़ 8 उतना जटिल नहीं लग रहा,जितना इसके बारे मे तमाम तकनीकी समीक्षाओं मे पढ़ने को मिलता रहा है। विंडोज़ 7 और xp की तुलना मे इसकी प्रोसेसिंग तेज है। 8.1 मे स्टार्ट बटन भी उपलब्ध हो गया है। लेकिन स्टार्ट मेन्यू 7 या xp के जैसा नहीं है। 





अगर आपके कंप्यूटर से प्रिन्टर अटेच्ड है तो संभव है कि विंडोज़ 8 के लिए आपको नया ड्राइवर डाऊनलोड करके इन्स्टाल करने की आवश्यकता हो सकती है। जैसे मेरा HP P1007 इसकी सी डी से ही इन्स्टाल हो गया लेकिन HP F2400 series वाले दूसरे प्रिन्टर के लिये ड्राइवर को डाउन्लोड करना पड़ा।
मुझे लगता है कि शुरुआत मे थोड़ी बहुत नाम मात्र की दिक्कत के बाद विंडोज़ 8 किसी को भी बेहतर कार्य अनुभव देने मे सक्षम हो सकता है।

Friday, 6 December 2013

I started a joke

आज नेल्सन मंडेला नहीं रहे। अभी शाम को अचानक ही यह गाना मेरी प्लेलिस्ट मे चलने लगा। सच मे यह गाना बहुत ही Spritual और deep है आप भी सुन लीजिये-

I started a joke, which started the whole world crying,
But I didn't see that the joke was on me, oh no.

I started to cry, which started the whole world laughing,
Oh, if I'd only seen that the joke was on me.

I looked at the skies, running my hands over my eyes,
And I fell out of bed, hurting my head from things that I'd said.

Til I finally died, which started the whole world living,
Oh, if I'd only seen that the joke was on me.

I looked at the skies, running my hands over my eyes,
And I fell out of bed, hurting my head from things that I'd said.

Til I finally died, which started the whole world living,
Oh, if I'd only seen that the joke was one me.

Thursday, 5 December 2013

बहुत दिन हुए बकवास नहीं की ?
जब भी इस ब्लॉग पर आता हूँ देखता हूँ कि सूना सूना सा है। क्या करूँ बातें तो बहुत हैं मेरे पास और रोज़ खुद से ना जाने कितनी ही बातें होती भी हैं लेकिन वो क्या है कि ज़रूरी नहीं कि खुद से होती हर बात को हर बार कुछ शब्द भी दिये जा सकें। इसलिए ब्लॉग का आँगन अक्सर सूना सा ही रहता है :)